Breaking News

पर्यटन स्थलों के लिए एडवांस बुकिंग 4 गुना बढ़ी, अंतरराष्ट्रीय उड़ानें बंद होने से घरेलू पर्यटन पर असर नहीं

 पर्यटन स्थलों के लिए एडवांस बुकिंग 4 गुना बढ़ी, अंतरराष्ट्रीय उड़ानें बंद होने से घरेलू पर्यटन पर असर नहीं

क्रिसमस से शुरू होकर नए साल तक चलने वाले फेस्टिव सीजन के चलते घरेलू पर्यटन उद्योग में जबरदस्त उत्साह दिख रहा है। ज्यादातर प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों के लिए एडवांस बुकिंग में 400% की बढ़ोतरी दिख रही है। दरअसल, कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के आने से टूरिज्म सेक्टर, टूर-ट्रैवल्स और इवेंट मैनेजमेंट इंडस्ट्री में चिंता थी।

happy new year celebration,new year movie,new year 2022,new year celebration,new year festival,new year 2020,new year 2021,chinese new year,happy new

इंटरनेशनल उड़ानों पर 31 जनवरी तक रोक बढ़ने से इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स (आईएटीओ) निराश है लेकिन इन कठिनाइयों के बीच घरेलू पर्यटन उद्योग पटरी पर लौट रहा है।

एडवांस बुकिंग में चार गुना तक की बढ़ोतरी

दिसंबर में डोमेस्टिक एयर फेयर में 30% और इंटरनेशनल एयरफेयर में 50% तक बढ़ोतरी के बावजूद क्रिसमस और न्यू ईयर के जश्न के लिए एडवांस बुकिंग में चार गुना तक वृद्धि दिख रही है। ईजमायट्रिप के को-फाउंडर रिकांत पित्ती ने बताया, पिछले साल के मुकाबले इस बार नवंबर-दिसंबर में प्रमुख वेडिंग डेस्टिनेशन की बुकिंग 100% तक ज्यादा है।


गुलमर्ग के होटल पूरी तरह बुक

गुलमर्ग, गोवा, उदयपुर, जयपुर, मसूरी, शिमला, नैनीताल, कॉर्बेट, ऋषिकेश और पोर्ट ब्लेयर के लिए बुकिंग में तेजी है। राजा-राणी ट्रैवल्स के चेयरमैन अभिजीत पाटिल बताते हैं कि गुलमर्ग के होटल पूरी तरह बुक हैं। अब टूरिस्ट पहलगाम का रुख कर रहे हैं और वहां भी 80% बुकिंग हो गई है। लगभग 60% हाउसबोट भी बुक हैं। जम्मू-कश्मीर में फैमिली टूरिस्ट्स का ट्रैफिक ज्यादा रहता है।


कश्मीर और हिमाचल का रुख सबसे ज्यादा


इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स महाराष्ट्र के चेयरमैन जितेंद्र केजरीवाल ने कहा, डोमेस्टिक मार्केट में कोरोना का पहले जैसा डर नहीं है, इसलिए टूरिज्म में तेजी का माहौल है।

जेम ट्रैवल्स के वीरेन वोरा ने बताया, दक्षिण अफ्रीका के लिए हमारे यहां से अच्छी बुकिंग शुरू हुई थी। दिवाली के दौरान 60-60 लोगों के दो ग्रुप अफ्रीका गए भी थे। मगर नए वैरिएंट और प्रतिबंध के चलते दिसंबर-जनवरी-फरवरी की इंटरनेशनल बुकिंग कैंसिल करनी पड़ी है। हालांकि घरेलू बुकिंग जारी है।

महाराष्ट्र से कुल होने वाली बुकिंग में से 40% जम्मू-कश्मीर के लिए हो रही है। 60% हिमाचल प्रदेश, सिक्किम, असम, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय जाना चाहते हैं।

देश की जीडीपी में टूरिज्म सेक्टर का योगदान 5% और रोजगार सृजन में 12% से अधिक है।

कोई टिप्पणी नहीं