Breaking News

कड़ाके की सर्दी ने 15 साल का रिकॉर्ड तोड़ा, पेड़-पौधों, झाड़ियों और घास पर जमी बर्फ

 कड़ाके की सर्दी ने 15 साल का रिकॉर्ड तोड़ा, पेड़-पौधों, झाड़ियों और घास पर जमी बर्फ

हिल स्टेशन माउंट आबू में इन दिनों कड़ाके की सर्दी से पड़ रही है। गुरुवार रात सर्दी ने 15 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। माउंट में शुक्रवार सुबह न्यूनतम तापमान माइनस 5 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। माउंट आबू में पिछले साल 29 जनवरी को न्यूनतम तापमान माइन 4.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। माउंट आबू में पिछले 6 दिनों से लगातार पारा जमाव बिंदु से नीचे ही दर्ज किया जा रहा है। कड़ाके की सर्दी और शीतलहर ने लोगों को ठिठुरा दिया है। अधिकतम तापमान 20.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।
latest news,google news,today news,ndtv news,aaj tak news,news in hindi


शहर का तापमान माइनस में रहने से सुबह लोगों के घरों की छतों पर लगी सोलर प्लेट, घर की छतों, बाग-बगीचों और खुले मैदान में लगे पेड़-पौधों, झाड़ियों के साथ ही घास पर बर्फ जमी नजर आ रही है। नक्की झील में खड़ी नावों की सीट, खुले में खड़ी गाड़ियों की छत पर भी बर्फ की मोटी परत जमी दिखती है। सर्दी इतनी तेज है कि लोग सुबह 9 बजे तक घरों में ही रहते हैं और धूप निकलने के बाद बाहर निकलते हैं। शीतलहर चलने से दोपहर में तेज धूप खिलने के बाद भी लोगों को सर्दी से राहत नहीं मिल रही है।

माउंट आबू में लगातार 6 दिन से पारा माइनस में होने से सुबह जगह-जगह बर्फ जमी नजर आ रही है। रविवार को यहां का पारा माइनस 2 डिग्री था। इसके बाद सोमवार और मंगलवार को पारा माइनस 3 डिग्री पर दर्ज किया गया। वहीं बुधवार और गुरुवार को पारा माइनस 4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। माउंट आबू में पड़ रही कड़ाके की सर्दी का असर सिरोही जिले के मैदानी इलाकों व ग्रामीण क्षेत्रों व शहरी क्षेत्रों में भी लगातार दिखाई दे रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं